हमको कन्हैया एक तेरा ही आधार है भजन लिरिक्स

हमको कन्हैया एक तेरा ही आधार है भजन लिरिक्स

हमको कन्हैया एक,
तेरा ही आधार है,
तेरा ही आधार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा,
हमको कन्हैया एक।।

तर्ज – सौ साल पहले।



ऐ खाटू वाले श्याम,

भरोसा तेरा भारी है,
तेरे ही दम पे ये,
जिंदगानी हमारी है,
मेरा परिवार पूरा,
तेरा कर्जदार है,
तेरा कर्जदार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा,
हमको कन्हेया एक,
तेरा ही आधार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा।।



जो कुछ भी मेरे पास,

तेरी रहमत का जलवा है,
तेरी कृपा से श्याम मेरा,
सब संकट टलता है,
मेरे संग संग चलता,
मेरा मददगार है,
मेरा मददगार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा,
हमको कन्हेया एक,
तेरा ही आधार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा।।



तेरे एहसानो को श्याम,

बोलो कैसे चुकाऊंगा,
जब तक है सांसे मेरी,
मैं तुमको भूल ना पाउँगा,
‘श्याम’ की नैया का बस,
तू ही खिवनहार है,
तू ही खिवनहार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा,
हमको कन्हेया एक,
तेरा ही आधार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा।।



हमको कन्हैया एक,

तेरा ही आधार है,
तेरा ही आधार है,
आज भी है और,
कल भी रहेगा,
हमको कन्हैया एक।।

Singer : Raj Pareek


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें