प्रथम पेज कृष्ण भजन हम है वृंदावन के वासी हम राधे राधे गाते है भजन लिरिक्स

हम है वृंदावन के वासी हम राधे राधे गाते है भजन लिरिक्स

हम है वृंदावन के वासी,
हम राधे राधे गाते है,
हम है वृन्दावन के वासी।।



श्री राधा राधा कहने से,

राधा किरपा बरसाती है,
मिल जाते है कुञ्जबिहारीजी,
जीवन की प्यास बुझ जाती है,
हम भोर भए वृन्दावन की,
परिक्रमा रोज लगाते है,
हम है वृन्दावन के वासी,
हम राधे राधे गाते है,
हम है वृन्दावन के वासी।।



आनंद नहीं वृन्दावन सो,

यहाँ बांके बिहारी रहते है,
वृन्दावन में आके देखो,
यहाँ राधे राधे कहते है,
निधिवन में मधुर श्याम श्यामा,
यहाँ आज भी रास रचाते है,
हम है वृन्दावन के वासी,
हम राधे राधे गाते है,
हम है वृन्दावन के वासी।।



श्री राधा नाम और वृन्दावन,

हमको प्राणो से प्यारे है,
वृन्दावन में रहकर देखा,
दुनिया से अलग नज़ारे है,
हम मधुर मधुर ब्रजवासिन के,
घर घर के टुकड़े खाते है,
Bhajan Diary Lyrics,
हम है वृन्दावन के वासी,
हम राधे राधे गाते है,
हम है वृन्दावन के वासी।।



हम है वृंदावन के वासी,

हम राधे राधे गाते है,
हम है वृन्दावन के वासी।।

Singer – Madhukar Kishore Das


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।