हे गंगे मैया पार लगा दे भजन लिरिक्स

हे गंगे मैया पार लगा दे,
जीवन नैया तेरे हवाले,
हे गंगे मईया पार लगा दे।।

तर्ज – दो दिल टूटे।



अपने तपोबल से ही,

भगीरथ ने धरती पे उतारा,
आके धरा पे तूने,
सगर के पुत्रो को था तारा,
गम के भंवर से तूने,
गम के भंवर से तूने,
सबको उबारा,
हे गंगे मईया पार लगा दे।।



जब जब दबी ये धरती,

पापी जनो के भारी पाप से,
पाने को मुक्ति आते,
लोग सभी तेरे पास रे,
पावन ये जल तेरा,
पावन ये जल तेरा,
पाप धो डाले,
हे गंगे मईया पार लगा दे।।



हे गंगे मैया पार लगा दे,

जीवन नैया तेरे हवाले,
हे गंगे मईया पार लगा दे।।

Singer – Tara Devi


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें