हरि किण पर छोड़यो देश मीराबाई भजन लिरिक्स

हरि किण पर छोड़यो देश,
मेवाड़ी राणा किण पर छोड़यो देश।।



थारे कारण सावरा जोगन हुई,

कर लिया भगवा वेश,
हरी किण पर छोड़यो देश,
मेवाड़ी राणा किण पर छोड़यो देश।।



थारे कारण सांवरा बिलखी भई,

झुर झुर राता नैण,
हरी किण पर छोड़यो देश,
मेवाड़ी राणा किण पर छोड़यो देश।।



बोलया बाई मीरा सांवरा हरि,

जस गायो रे राधापति बाला वेश,
हरी किण पर छोड़यो देश,
मेवाड़ी राणा किण पर छोड़यो देश।।



हरि किण पर छोड़यो देश,

मेवाड़ी राणा किण पर छोड़यो देश।।

Upload By – Bhavesh Jangid
8769242034


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें