प्रथम पेज गणेश भजन गाइये गणपति जगवंदन भजन लिरिक्स

गाइये गणपति जगवंदन भजन लिरिक्स

गाइये गणपति जगवंदन,
शंकर सुवन भवानी नंदन,
शंकर सुवन भवानी नंदन,
गाइये गणपति जगवंदन।।



सिद्धि सदन,

गजवदन विनायक,
कृपा सिंधु सुंदर,
सब लायक,
शंकर सुवन भवानी नंदन,
गाइये गणपति जगवंदन।।



मोदक प्रिय,

मुद मंगल दाता,
विद्या वारिधि,
बुद्धि विधाता,
शंकर सुवन भवानी नंदन,
गाइये गणपति जगवंदन।।



मांगत तुलसीदास,

कर जोरे,
बसहूँ रामसिय,
मानस मोरे,
शंकर सुवन भवानी नंदन,
गाइये गणपति जगवंदन।।



गाइये गणपति जगवंदन,

शंकर सुवन भवानी नंदन,
शंकर सुवन भवानी नंदन,
गाइये गणपति जगवंदन।।

स्वर – श्री जगजीत सिंह।
प्रेषक – आशुतोष त्रिवेदी।
7869697758


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।