डूबतो को बचा लेने वाले मेरी नईया है तेरे हवाले लिरिक्स

डूबतो को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले,
डूबतों को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले।।



लाख अपनो को मैने पुकारा,

सब के सब कर गए है किनारा,
अब तो देता ना कोई दिखाई,
मुझको प्यारे है तेरा सहारा,
कौन तुम बिन भवर से निकाले,
कौन तुम बिन भवर से निकाले,
मेरी नैया है तेरे हवाले,
डूबतों को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले।।



जिस समय तू बचाने पे आए,

नाँव सीधी बचा के ले जाए,
जिस पे तेरी दया द्रष्टि होवे,
उसपे कैसे कभी आंच आए,
आँधियों में भी तू ही संभाले,
आँधियों में भी तू ही संभाले,

मेरी नैया है तेरे हवाले,
डूबतों को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले।।



पृथ्वी सागर में पर्वत बनाए,

तूने धरती पे दरिया बनाए,
चाँद सूरज करोड़ों सितारे,
तूने आकाश में भी बिछाए,
तेरे सब काम जग से निराले,
तेरे सब काम जग से निराले,

मेरी नैया है तेरे हवाले,
डूबतों को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले।।



बिन तेरे चैन मिलता नहीं है,

फूल आशा की खिलता नहीं है,
तेरी मर्जी के बिन मेरे प्यारे,
एक भी पत्ता हिलता नहीं है,
तेरे वश में अँधेरे उजाले,
तेरे वश में अँधेरे उजाले,

मेरी नैया है तेरे हवाले,
डूबतों को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले।।



डूबतो को बचा लेने वाले,

मेरी नईया है तेरे हवाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले,
डूबतों को बचा लेने वाले,
मेरी नईया है तेरे हवाले।।

स्वर – चित्र विचित्र जी महाराज।


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें