दोबारा अवतार धार के जब धरती पे आवेगा

दोबारा अवतार धार के,
जब धरती पे आवेगा,
सुण ना सकेगा मेरे कन्हैया,
के के बदला पावेगा।।



देवकी वासुदेव मिले ना,

मिलेंगे मम्मी डेड्डी र,
दुध दही मिले ना खाण ने,
चाय मिले गी रेड्डी र,
सपना का तुं डांस देखिए,
रैप मारता केड्डी र,
सिर फुड़वादें आग लुवादें,
घणी कसुती लेडी र,
देख देख क ऐसे अजुबे,
देख देख क ऐसे अजुबे,
सिर तेरा चकरावेगा,
सुण ना सकेगा मेरे कन्हैया,
के के बदला पावेगा।।



नहीं मिलेगी पिताम्बर बाणा,

फिट जींस की पेंट मिले,
बैस्ट फ्रैण्ड मतलब के साथी,
टाईम प अपसेंट मिले,
फोन पे करदेंगे टाटा,
और टाटा परमानेन्ट मिले,
ईन्द्रप्रस्थ का नाम बदलगया,
किते पालम किते केंट मिले,
बाजै डिस्को ढोल कोण,
बाजै डिस्को ढोल कोण,
मुरली प ध्यान जमावेगा,
सुण ना सकेगा मेरे कन्हैया,
के के बदला पावेगा।।



श्रध्दा और विश्वास रह ना,

घणे धर्म बणाज्यांगे,
बैटी की कोए कदर रह ना,
कोख में कत्ल करावंगे,
जन्म देणया माँ बाप,
ठोकरां में रलदे पावंगे,
गल्ती करण आले के संग में,
हजारों साथी पावंगे,
भारद्वाज सुनील बतादे,
भारद्वाज सुनील बतादे,
तुं के तीर चलावेगा,
सुण ना सकेगा मेरे कन्हैया,
के के बदला पावेगा।।



दोबारा अवतार धार के,

जब धरती पे आवेगा,
सुण ना सकेगा मेरे कन्हैया,
के के बदला पावेगा।।

गायक – नरेन्द्र कौशिक।
भजन प्रेषक – राकेश कुमार जी,
खरक जाटान(रोहतक)
( 9992976579 )


पिछला भजनभोले के भक्तां ने धुणा लाया धुणा लाया हरियाणवी भजन
अगला भजनम्हारे जागरण में आईये तेरी जोत जगाई री

१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें