धीरे धीरे बंसी बजाए मेरा कान्हा भजन लिरिक्स

धीरे धीरे बंसी बजाए मेरा कान्हा,
राधा नाचती आये रे,
मेरा श्याम दीवाना।।

तर्ज – मेरा लौंग गवाचा।



दीवाना सब को कर जावे,

कान्हा ऐसी बंसी बजावे,
बंसी बजावे मुरली बजावे,
सब के दिलो को भाये रे,
मेरा श्याम दीवाना,
धीरे धीरे बँसी बजाए मेरा कान्हा,
राधा नाचती आये रे,
मेरा श्याम दीवाना।।



सखियों के संग रास रचावे,

ग्वालो के संग गैया चरावे,
गैया चरावे रास रचावे,
राधा के मन को भाये रे,
मेरा श्याम दीवाना,
धीरे धीरे बँसी बजाए मेरा कान्हा,
राधा नाचती आये रे,
मेरा श्याम दीवाना।।



यमुना तट पे मटकियां तोड़े,

सखियों की वो बैयाँ मरोड़े,
मटकियां तोड़े बैयाँ मरोड़े,
फिर भी सब को भाये रे,
मेरा श्याम दीवाना,
धीरे धीरे बँसी बजाए मेरा कान्हा,
राधा नाचती आये रे,
मेरा श्याम दीवाना।।



धीरे धीरे बंसी बजाए मेरा कान्हा,

राधा नाचती आये रे,
मेरा श्याम दीवाना।।

Singer & Upload By – Naresh Malhotra
7217776949


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें