प्रथम पेज राजस्थानी भजन देवरिया केसरिया कंवर जी कथा लिरिक्स

देवरिया केसरिया कंवर जी कथा लिरिक्स

देवरिया केसरिया कंवर जी कथा,

अरे भाईडा प्रथम सिवरू,
गणनायक गणराज,
माता अमिया रा सिवरू लाडला रे जियो,
अरे देवी सिवरू थाने शारदा जी मात,
देवी सिवरू थाने शारदा जी मात,
हिवडे उपजावो गंगा ज्ञान री ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे केसरिया कंवर जी थे,

करजो सबरी सहाय,
केसरिया कंवर जी थे,
करजो सबरी सहाय,
मै तो अज्ञानी बालक आपरा ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे केसरिया कंवर जी रा,

परचा जग में जोर,
केसरिया कंवर जी रा,
परचा जग में जोर,
साचो दरबार धणीया आपरो ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे ओ कंवरा सिवरे जिनरी,

करजो सहाय,
कंवरा सिवरे जिनरी,
करजो सहाय,
भगता रे हलकारे वेगा आवजो ओ जियो,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा इन्द्र गाजे,

आयो मास आषाढ,
भाईडा इन्द्र गाजे आयो,
मास आषाढ,
बिरखा बरसे है घणी जोर री ओ जियो,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा मेवुडो बरसे,

हर्षे सब किसान,
भाईडा मेवुडो बरसे,
हर्षे सब किसान,
मयंक रामजी बेलीयाँ जोतीया ओ जियो,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा मयंक रामजी,

आया खेता माय,
भाईडा मयंक रामजी,
आया खेता माय,
आयने खेता मे हलीयो हाकीयो ओ जियो,
केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा बेलीयाँ चाले मूरत,

अडी हल माय,
भाईडा बेलीयाँ चाले मूरत,
अडी हल माय,
आकाशा गूंजी है वाणी जोर री ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा बेलीयाँ सामी,

आयो वासक नाग,
भाईडा बेलीयाँ सामी,
आयो वासक नाग,
मयंक रामजी मन में कांपीया ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा बोलीया वासक,

मत डर मयंकराम,
भाईडा बोलीया वासक,
मत डर मयंकराम,
मै तो दखल नही देवु आपने ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा बोलीया वासक,

सुनले मयंकराम,
भाईडा बोलीया वासक,
सुनले मयंकराम,
तू तो सेवक है म्हारो आज सु ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे मानवी करजो म्हारी,

साची मन सु सेव,
मानवी करजो म्हारी,
साची मन सु सेव,
थारा तो मनोरथ पूरा होवसी ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे ओ सेवक वचन देवु,

मै तो थाने आज,
सेवक वचन देवु मै,
तो थाने आज,
पीढी़ पीढी हीत राखसु ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा कोल वचन कर,

वासक होया आलोप,
अरे भाईडा कोल वचन कर,
वासक होया आलोप,
सुनो आगे री सगली वार्ता ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा रूघरवाल जी थरप्यो,

कंवरा रो थान,
भाईडा रूघरवाल जी थरप्यो,
कंवरा रो थान,
अब तो दुखीयारा आवे धाम पे ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे केसरिया कंवर बोल्या,

सुनले सेवक बात,
केसरिया कंवर बोल्या,
सुनले सेवक बात,
थारे कहयोडा वचन सिद्ध होवसी ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा सर्प डसीया,

आवे देवरिया धाम,
भाईडा सर्प डसीया,
आवे देवरिया धाम,
ताती बांधत ही विष परो हटे ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा कष्ट मिटावे,

कंवर केसरिया आप,
भाईडा कष्ट मिटावे,
कंवर केसरिया आप,
भगतो रे हलकारे हाजिर देवता ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे सेवक जी बीस वर्ष तक,

करी कंवरा री सेव,
सेवक जी बीस वर्ष तक,
करी कंवरा री सेव,
पछे सिधाया अमर धाम पे ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे वासक बोल्या मूलजी,

बैठो गादी आप,
वासक बोल्या मूलजी,
बैठो गादी आप,
ईट तो सम्भालो अब थे आपरो ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा पैसठ साल तक,

करी मूलजी सेव,
भाईडा पैसठ साल तक,
करी मूलजी सेव,
पछे दलाजी ने इष्ट जागीया ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे केसरिया कंवर गादी,

सुनी राखी नाही,
केसरिया कंवर गादी,
सुनी राखी नाही,
तेरह वर्ष को बालक करे सेवना ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा दूर दूर सु,

परखन आया लोग,
भाईडा दूर दूर सु,
परखन आया लोग,
परचो देख्या सब अचरज कर रया ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा अब हर्षे सगला,

नर ओर नार,
भाईडा अब हर्षे सगला,
नर ओर नार,
कंवरा रा जयकारा गूंजे जोर रा ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे केसरिया कंवर जी रो,

देवरिया में धाम,
केसरिया कंवर जी रो,
देवरिया में धाम,
सगला धर्मों रा आवे जातरी ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे पचपन वर्ष दलाजी करी,

वासक री सेव,
पचपन वर्ष दलाजी करी,
वासक री सेव,
पछे सिधाया अमर धाम पे ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा तीन महीना सु,

जागी पाछी ज्योत,
भाईडा तीन महीना सु,
जागी पाछी ज्योत,
सेवा अब करे बंशीलाल जी ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।



अरे भाईडा वर्ष अठारह,

करी बंशीजी सेव,
भाईडा वर्ष अठारह,
करी बंशीजी सेव,
पछे सिधाया स्वर्गा मायने ओ जियो,
अरे भाईडा “लखन चौधरी”,
संग महरा मनीष,
भाईडा लखन चौधरी,
संग महरा मनीष,
महिमा गाई देवरिया धाम री ओ जियो,
अरे केसरिया कंवर बिराजे धाम,
देवरिया माय,
गाथा गावु मै कंवरा आपरी ओ जियो।।

लेखक – लखन चौधरी जी।
गायक – हेमराज गोयल व दीपा।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।