दरस एक बार दिखाना रे शिव शंकर डमरू वाले लिरिक्स

दरस एक बार दिखाना रे शिव शंकर डमरू वाले लिरिक्स

दरस एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।

तर्ज – बता मेरे यार सुदामा।



इतना बताओ शम्भू मेरे,

तुमने कहाँ कहाँ डाले डेरे,
मुझे वो द्वार बताना रे,
शिव शंकर डमरू वाले,
दरश एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।



भोले कितने धाम तुम्हारे,

तुमको ढूंढ ढूंढ के हारे,
तेरा दरबार मिला ना रे,
शिव शंकर डमरू वाले,
दरश एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।



विनती सुनो महाकालेश्वर,

दर्शन दे दो ओम्कारेश्वर,
तेरी मैं हुई दीवानी रे,
शिव शंकर डमरू वाले,
दरश एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।



कर दो किरपा काशीनाथ,

चित भूमि के बैदनाथ,
सोया भाग जगाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले,
दरश एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।



मुझको बता दो श्री गणेश,

मिलेंगे कहाँ पे शिव नागेश,
मुझे उनसे मिलवाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले,
दरश एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।



बारह शिवलिंगो के रूप,

मुझको दिखा दो सभी स्वरुप,
मुझे तेरा ही सहारा रे,
शिव शंकर डमरू वाले,
दरश एक बार दिखाना रे,
शिव शंकर डमरू वाले।।



दरस एक बार दिखाना रे,

शिव शंकर डमरू वाले।।

Singer – Kanishka Negi


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें