चुनरी उढ़ा के मैं भी मालामाल हो गया भजन लिरिक्स

मेहंदी लगाई तुझको,
और मैं लाल हो गया,
चुनरी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया,
चुनड़ी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया।।



जब से मेरी मैया से,

पहचान हो गई,
राहों की मुश्किलें सभी,
आसान हो गई,
जीवन का सारा ख़त्म ही,
जंजाल हो गया,
चुनड़ी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया।।



मेहंदी लगाने के लिए,

मैया ने बुलाया,
जैसे ही मेरी और,
अपना हाथ बढ़ाया,
ऐसा नजारा देख मैं,
निहाल हो गया,
चुनड़ी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया।।



सोचा भी नही था वो,

माँ ने काम कर दिया,
मुझ दीन पे इतना बड़ा,
एहसान कर दिया,
सपना था जो जीवन का,
वो साकार हो गया,
चुनड़ी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया।।



चुनड़ी है कभी तो,

कभी मेहंदी है बहाना,
‘सोनू’ हमारा काम है,
मैया को रिझाना,
मैं देखते ही रह गया,
कमाल हो गया,
चुनड़ी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया।।



मेहंदी लगाई तुझको,

और मैं लाल हो गया,
चुनरी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया,
चुनड़ी उढ़ा के मैं भी,
मालामाल हो गया।।

स्वर – सौरभ मधुकर।


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

मैं हूँ दासी तेरी दातिए माता भजन लिरिक्स

मैं हूँ दासी तेरी दातिए माता भजन लिरिक्स

मैं हूँ दासी तेरी दातिए, सुन ले विनती मेरी दातिए, मैया जब तक जियूं, मैं सुहागन रहूं, मुझको इतना तू वरदान दे, मै हूँ दासी तेरी दातिए, सुन ले विनती…

दादी चरण है ये दादी चरण आती है दुनिया जिनकी शरण

दादी चरण है ये दादी चरण आती है दुनिया जिनकी शरण

दादी चरण है ये दादी चरण, आती है दुनिया जिनकी शरण, महिमा अपरम्पार है, जहाँ झुकता ये संसार है, दादी चरण हैं ये दादी चरण, आती है दुनिया जिनकी शरण।।…

तुम्हरे भरोसे मोरी जीवन की नैया शारदा मैया भजन लिरिक्स

तुम्हरे भरोसे मोरी जीवन की नैया शारदा मैया भजन लिरिक्स

तुम्हरे भरोसे मोरी, जीवन की नैया, पार लगा दो मोरी, शारदा मैया, जय जय शेरा वाली माँ, ऊंचे मंदिरो वाली माँ।। जो भी कुछ है पास वो मेरे, ले लो…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे