छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हैया भजन लिरिक्स

छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हैया प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया

छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हैया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया,
ब्रजधाम को वो धेनु चरैया,
वो तो फन फन नाग नथईया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हैया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।



माखन चोरी करे जोरा जोरी करे,

गोपियन की मटकी फुडया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजैया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हेया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।



छाई ब्रज में उमंग खेले ग्वालों के संग,

राधा रानी संग रास रचैया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजैया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हेया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।



माथे मुकुट साजे पग पेंजन बाजे,

मैया यशोदा जी लेवे बलैया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजैया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हेया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।



कृष्ण बंसी बजे राधा रानी नाचे,

वो तो मुरली पे मोहित करईया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजैया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हेया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।



इन्द्र वर्षा करे कृष्ण रक्षा करे,

वो तो खुद ही लीला रचईया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजैया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हेया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।



छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हैया,

प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया,
ब्रजधाम को वो धेनु चरैया,
वो तो फन फन नाग नथईया,
छोटो छोटो सो कृष्ण कन्हैया,
प्यारो प्यारो सो बंसी बजईया।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें