प्रथम पेज फिल्मी तर्ज भजन चार दिन की जिंदगी चार दिन का मेला है भजन लिरिक्स

चार दिन की जिंदगी चार दिन का मेला है भजन लिरिक्स

चार दिन की जिंदगी,
चार दिन का मेला है,
आया तू अकेला जग में,
जाए भी अकेला है,
चार दिंन की जिंदगी,
चार दिन का मेला है।।

तर्ज – जिंदगी की राहों में।



कोडी कोडी माया जोड़ी,

बन बैठा करोडी तू,
कोडी कोडी माया जोड़ी,
बन बैठा करोडी तू,
साथ नहीं जाए बंदे,
एक भी ये ढेला है,
चार दिंन की जिंदगी,
चार दिन का मेला है।।



भाई और बंधु तेरे,

साथ नहीं जाएंगे,
भाई और बंधु तेरे,
साथ नहीं जाएंगे,
साथ नहीं जाए तेरे,
जिनके साथ खेला है,
चार दिंन की जिंदगी,
चार दिन का मेला है।।



चार दिन की जिंदगी,

चार दिन का मेला है,
आया तू अकेला जग में,
जाए भी अकेला है,
चार दिंन की जिंदगी,
चार दिन का मेला है।।

Upload By – Ranjeet Singh Devti
6377955943


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।