चली आती हो माँ भक्त़ो के लिए

चली आती हो माँ,
भक्त़ो के लिए,
मेरे कारण भी आना होगा।।



कबसे देखूँ माँ रस्ता तुम्हारी,

कब आओगी माँ शेरोवाली,
मेरी खातिर तुम्हे मातारानी,
कष्ट इतना तो करना होगा,
चली आती हों माँ,
भक्त़ो के लिए,
मेरे कारण भी आना होगा।।



आकर दर्शन ओ मैया दिखादो,

मुझे चरणो से अपने लगालो,
अपने भक्तो को माँ तुमने तारा,
पार मुझको भी करना होगा,
चली आती हों माँ,
भक्त़ो के लिए,
मेरे कारण भी आना होगा।।



चाहूँ न मै कभी मैया मुक्ती,

मुझपे होती रहे कृपा दृष्टी,
तेरे चरणो मे झोली फैलाई,
मेरी झोली भी भरनी होगी,
चली आती हों माँ,
भक्त़ो के लिए,
मेरे कारण भी आना होगा।।



चली आती हो माँ,

भक्त़ो के लिए,
मेरे कारण भी आना होगा।।

– भजन लेखक एवं प्रेषक –
श्री शिवनारायण वर्मा,
मोबा.न.8818932923


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें