प्रथम पेज प्रकाश माली भजन

प्रकाश माली भजन

Prakash Mali Bhajan

अम्बाजी रो लाड़लो सेवाडी भैरव देव भजन लिरिक्स

0
अम्बाजी रो लाड़लो, दोहा - भगत खडा दरबार में, थारी चरना माय, दर्शन दीजो बापजी, म्हारी किजो खेतल सहाय। अम्बाजी रो लाड़लो, सेवाडी भैरव देव, अम्बाजी रो लाडलो, सेवाडी भैरव देव, भगता रो...

अम्बाजी थारी मूरत सिंगारी करूला मैया पूजा मै थारी

0
अम्बाजी थारी मूरत सिंगारी, करूला मैया पूजा मै थारी, लागे रे थारी शोभा अति प्यारी, आवे रे थारे द्वारे नर नारी, मूरत मोहनकारी मैया, शोभा अति प्यारी, अम्बाजी थारी मूरत...

फुटरो लागे जी मिन्दर भेरुजी भजन लिरिक्स

0
फुटरो लागे जी मिन्दर, दोहा - भेरू भरजाला खेतला, नेे नगर सोनाला माय, देवल लागे फुटरो, म्हाने दुजो नी आवे दाय। फुटरो लागे जी मिन्दर, फुटरो लागे, फुटरो लागें जी मिन्दर, फुटरो...

आओ संतोषी मैया आंगने म्हारा दुखडा निवारो ओ जी

0
आओ संतोषी मैया आंगने, दोहा - मेहर करो मैया मेरी, अरज सुनो माँ आय, हे संतोषी सहाय करो, थारे निव निव लागू पाव। आओ संतोषी मैया आंगने, ओ म्हारा दुखडा...

ऊंचे पर्वत बनीयो देवरो देव खेतला वालो भजन लिरिक्स

0
ऊंचे पर्वत बनीयो देवरो, देव खेतला वालो जगत में, धाम बडो है निरालो ए हा, सोनाला मे मिन्दर भारी, देसुरी मे मिन्दर भारी, परचो खेतल थारो सोनालो में, धाम बडो...

खिड़की मिन्दर री थारी खोल दो खेतलाजी भजन लिरिक्स

0
खिड़की मिन्दर री थारी, खोल दो खेतलाजी, आयो दर्शन ने थारे द्वार जे ए हा, सारंगवा नगरी रा, मोटा देवता भेरूजी, अरे निव निव लागू, थारे पाव जे ए हा।। बेली...

सखी री मैं तो जाऊंगी बाबा के पास रामदेवजी भजन

0
सखी री मैं तो जाऊंगी, बाबा के पास, घूम रहा है इन अखियन में, घूम रहा है इन अखियन में, रूनीचा दरबार, सखी रे मै तो जाऊंगी, बाबा के पास।। बाबा...

मैं तो भूली रे सरवरीया वाली पाल गजरों लुम्बा रो लिरिक्स

0
मैं तो भूली रे सरवरीया वाली पाल, गजरों लुम्बा रो, इनमें मोती जडीया दोई दोई चार, गजरों लुम्बा रो, इनमें मोती जडीया दोई दोई चार, गजरों लुम्बा रो।। पहला रे...

जल केडी तम्बुडी पवन केडी झारी रे देसी भजन लिरिक्स

0
जल केडी तम्बुडी, पवन केडी झारी रे, माता तो कवारी ज्योरा, पिता ब्रम्हचारी रे, माता तो कवारी ज्योरा, पिता ब्रम्हचारी रे, आँख बिना पाँख बिना, मुखडा बिना नारी रे, हेठे तो घडोलीयो...

गुरू वासुदेव जी को बार बार वन्दना भजन लिरिक्स

0
गुरू वासुदेव जी को, बार बार वन्दना, बार बार वन्दना, हजार बार वन्दना, बार बार वन्दना, हजार बार वन्दना, गुरू वासुदेंव जी को, बार बार वन्दना।। भक्ति के सच्चे साधक आप कहावे, भक्ति...

कृष्ण भजन लिरिक्स

फ़िल्मी तर्ज भजन

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।