मैं हूँ शरण में तेरी संसार के रचैया भजन लिरिक्स

मैं हूँ शरण में तेरी संसार के रचैया कश्ती मेरी लगा दो उसपार ओ कन्हैया।। तर्ज - मैं ढूढ़ता हूँ जिनको। मेरी अरदास सुन लीजे...

कृष्ण भजन लिरिक्स

फ़िल्मी तर्ज भजन

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।