प्रथम पेज फिल्मी तर्ज भजन ब्रह्माण्ड नायक पीरो का पीर शिरडी में आया बनके फ़क़ीर

ब्रह्माण्ड नायक पीरो का पीर शिरडी में आया बनके फ़क़ीर

ब्रह्माण्ड नायक पीरो का पीर,
शिरडी में आया बनके फ़क़ीर,
अजब कहानी है साई बाबा तेरी,
दुनिया दीवानी है साई बाबा तेरी।।

तर्ज – आने से उसके आए बहार।



राम नाम जपता,

कभी कहता वो अल्लाह हू अकबर,
एक जैसी रहमत,
करता मेरा बाबा सभी पर,
शरण में जो आ जाए,
शरण में जो आ जाए,
होती मेहरबानी है,
साई बाबा तेरी,
अजब कहानी है साई बाबा तेरी,
दुनिया दीवानी है साई बाबा तेरी।।



तेल के बिना ही,

तूने पानी से दीपक जलाये,
पीस के गेहूं को,
रोग शिरडी जनो के मिटाये,
भक्तो के दुःख हरना,
भक्तो के दुःख हरना,
रीत ये पुरानी है,
साई बाबा तेरी,
अजब कहानी है साई बाबा तेरी,
दुनिया दीवानी है साई बाबा तेरी।।



गा रही है दुनिया,

साई बाबा की रहमत के किस्से,
हो रहे है देखो,
आज घर घर में साई के चर्चे,
‘साहिल’ ने भी दिल से,
‘साहिल’ ने भी दिल से,
महिमा बखानी है,
साई बाबा तेरी,
अजब कहानी है साई बाबा तेरी,
दुनिया दीवानी है साई बाबा तेरी।।



ब्रह्माण्ड नायक पीरो का पीर,

शिरडी में आया बनके फ़क़ीर,
अजब कहानी है साई बाबा तेरी,
दुनिया दीवानी है साई बाबा तेरी।।

Singer – Nidhi Sahil


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।