भूलूँ नही श्री राधे तेरा नाम जपते जपते लिरिक्स

भूलूँ नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते,
मेरी जुंबा से निकले,
तेरा नाम रटते रटते,
भूलू नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते।।



दुनिया ये चाहे रूठे,

तेरा धाम कभी ना छूटे,
सुबहो शाम दर्श पाऊ,
तेरा नाम जपते जपते,
भूलू नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते।।



वो दिल कहांं से लाऊ,

जिसमे तुम्हें बसाऊ,
चरणों की रज में पाऊं,
तेरा नाम जपते जपते,
भूलू नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते।।



रसिकों का प्यारा संग हो,

इक तेरी ही लगन हो,
बरसाने वास पाऊ,
तेरा नाम जपते जपते,
भूलू नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते।।



झूठा जगत है सारा,

मै दास हूं तुम्हारा,
साऐ मे तेरे पाऊ,
आराम जपते जपते,
तेरा नाम जपते जपते,
भूलू नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते।।



भूलूँ नही श्री राधे,

तेरा नाम जपते जपते,
मेरी जुंबा से निकले,
तेरा नाम रटते रटते,
भूलू नही श्री राधे,
तेरा नाम जपते जपते।।

गायक / प्रेषक – रसिक पागल मामा।
9991515880


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें