भोला नाथ ने मनावा ने आया बाबा राखो छतर वाली छाया रे

भोला नाथ ने मनावा ने आया बाबा राखो छतर वाली छाया रे
राजस्थानी भजन

भोला नाथ ने मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे,
भोंलानाथ नें मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे।।



भोला शीश पे गंगा सोवे,

थारे डम डम डमरू बाजे रे,
भोंलानाथ नें मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे।।



थारे गले कालो नाग बिराजे रे,

थारे अंग भभूति सोवे जी,
भोंलानाथ नें मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे।।



थारे हाथ मे त्रिशूल सोवे जी,

थारे डम डम डमरू बाजे रे,
भोला नाथ नें मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे।।



थाने भक्त मण्डल की विनति,

थाके चरणा शीश जुकावे जी,
सबकी नइया पार लगाओ जी,
भोंलानाथ नें मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे।।



भोंलानाथ ने मनावा ने आया,

बाबा राखो छतर वाली छाया रे,
भोंलानाथ नें मनावा ने आया,
बाबा राखो छतर वाली छाया रे।।

Singer – Naresh Prajapat
प्रेषक – सुभाष चंद्र शर्मा भट्टकोटड़ी
9983719750


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे