भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा भेरुजी भजन लिरिक्स

भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा भेरुजी भजन लिरिक्स

भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना थारे बाजे घुँघरा,
थारे लागे रे झालर की झंकार,
नखरालो खेले घुँघरा,
मतवारो खेले घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा।।



भेरुजी दूध तो पीवो नी ओ,

दारु छोड़ दो,
थे तो छोड़ो छोड़ो,
कलाली को हैत,
नखरालो खेले घुँघरा,
मतवारो खेले घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा।।



भेरुजी ऊबी रे कुमारण,

देवे ओलवा,
म्हारा कलशया माई ने,
कीनो नुकसान,
नखरालो खेले घुँघरा,
मतवारो खेले घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा।।


भेरुजी ऊबी रे गुजर की,
देवे ओलवा,
म्हारा जावणिया में,
कीनो नुकसान,
नखरालो खेले घुँघरा,
मतवारो खेले घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा।।



भेरुजी ऊबी मालन की,

देवे ओलवा,
म्हारा बाढ्या माई ने,
कीनो नुकसान,
नखरालो खेले घुँघरा,
मतवारो खेले घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा।।



भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा,

भेरुजी नाना नाना थारे बाजे घुँघरा,
थारे लागे रे झालर की झंकार,
नखरालो खेले घुँघरा,
मतवारो खेले घुँघरा,
भेरुजी नाना नाना बाजे घुँघरा।।


2 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें