भई रे राखजो मनडा में विश्वास मिलेला थाने राम धणी

भई रे राखजो मनडा में विश्वास,
मिलेला थाने राम धणी,
भई रे राखजो मनडा मे विशवास,
मिलेला थाने राम धणी,
ओ भई रे सिवरू मै दिन ने रात,
मिलेला थाने राम धणी।।



ओ भई रे माता मैणादे वालो लाल,

रूनीचा ज्यारो देवरो,
भई रे माता मैणादे वालो लाल,
रूनीचा ज्यारो देवरो,
ओ भई रे कहलावे द्वारिका रो नाथ,
भगता रो साचो आसरो,
ओ भई रे परचा बतावे हाथो हाथ,
रूनीचा वालो राम धणी,
भई रे परचा बतावे हाथो हाथ,
रूनीचा वालो राम धणी।।



भई रे कलजुग मे लियो अवतार,

परचो तो पायो मावडी,
भई रे कलजुग मे लियो अवतार,
परचो तो पायो मावडी,
भई रे भूमि रो भार उतार,
बाणिया री तारी जहाज़डी,
ओ भई रे जिवायो सुगना वालो लाल,
रूनीचा वालो राम धणी,
भई रे जिवायो सुगना वालो लाल,
रूनीचा वालो राम धणी।।



ओ भई रे मेलो रे भरीजे सालो साल,

भगता री लागे भीड़ घणी,
भई रे मेलो रे भरीजे सालो साल,
भगता री लागे भीड़ घणी,
भई रे बाबा री गूंजे जय जयकार,
चारो खूटा मे किरती,
ओ भई रे भगतो री पूरे सब आस,
रूनीचा वालो राम धणी,
भई रे भगतो री पूरे सब आस,
रूनीचा वालो राम धणी।।



ओ भई रे दास अशोक सुनाय,

बाबा ने करलो विनती,
भई रे दास अशोक सुनाय,
बाबा ने करलो विनती,
ओ भई रे दीजो थे दर्श दिखाय,
गावा मै थारी आरती,
ओ भई रे नाव लगावे भव सु पार,
रूनीचा वालो राम धणी,
भई रे नाव लगावे भवसु पार,
रूनीचा वालो राम धणी।।



भई रे राखजो मनडा में विश्वास,

मिलेला थाने राम धणी,
भई रे राखजो मनडा मे विशवास,
मिलेला थाने राम धणी,
ओ भई रे सिवरू मै दिन ने रात,
मिलेला थाने राम धणी।।

गायक – मोईनुद्दीन जी मनचला।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


https://youtu.be/6Dv-0goDhss

इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

माताजी रा मिन्दरिया में बांध्यो रे हिण्डोलो

माताजी रा मिन्दरिया में बांध्यो रे हिण्डोलो

माताजी रा मिन्दरिया में, बांध्यो रे हिण्डोलो, बांध्यो रे हिण्डोलो, लाख आवे ने लाख जावे म्हारी माँ, लाख आवे ने लाख जावे म्हारी माँ।। लाल चुनडीया म्हारी कोई, माताजी ने…

गुरासा शरण आपरी आया भजन लिरिक्स

गुरासा शरण आपरी आया भजन लिरिक्स

गुरासा शरण आपरी आया, शरणों में आया, बहुत सुख पाया, मिट गया जमड़ा रा दाया, गुरासा शरण आपरी आया।। ओ मन म्हारो काग सरूपी, अवगुन बहुत भराया, सतगुरु स्वामी हंस…

धरु मैं तेरा ध्यान पवन के प्यारा भजन लिरिक्स

धरु मैं तेरा ध्यान पवन के प्यारा भजन लिरिक्स

मेरी विनती सुनो हनुमान, धरु मैं तेरा ध्यान, पवन के प्यारा, अंजनी के लाल दुलारा।। शिर मुकुट गले फुलमाला, श्री लाल लंगोटे वाला, कानों में कुंडल तेज, भान उजियाला, अंजनी…

दो हजार त्रेसठ री संवत नदियाँ उफन आवे रे फागण गीत लिरिक्स

दो हजार त्रेसठ री संवत नदियाँ उफन आवे रे फागण गीत लिरिक्स

दो हजार त्रेसठ री संवत, नदियाँ उफन आवे रे, अरे दो हजार त्रेसठ री संवत, नदियाँ उपन आवे रे, अरे मरूधर माई त्राहि त्राहि, जबरी छावे ओ, के कवास मायने,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे