बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया तेरी मैं दीवानी हो गई भजन लिरिक्स

बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया तेरी मैं दीवानी हो गई भजन लिरिक्स

बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया,
तेरी मैं दीवानी हो गई,
भूली सुद्बुध सांवरे बिहारी,
भूली सुद्बुध सांवरे बिहारी,
तेरी मैं दीवानी हो गई,
बंसी वारे कारे कृष्ण कन्हैया,
तेरी मैं दीवानी हो गई।।



मधुरम मधुरम माधव मधुरम,

मधुरम मधुरम ओ माधव मधुरम,
अधरामृत हरी मधुरम,
अधरामृत हरी मधुरम,
हाये अदाएं मधुरम मधुरम,
हाये अदाएं मधुरम मधुरम,
चंचल चितवन मधुरम,
बंसी वारे कारे कृष्ण कन्हैया,
तेरी मैं दीवानी हो गई।।



नन्द के दुलारे कान्हा,

यशोमति प्यारे श्याम,
छलिया बिहारी हम,
हो गए तुम्हारे श्याम,
हारी हारी मैं तो गिरवर धारी,
हारी हारी मैं तो गिरवर धारी,
बंसी वारे कारे कृष्ण कन्हैया,
तेरी मैं दीवानी हो गई।।



एक सहारा तू ही सहारा,

एक सहारा तू ही सहारा,
प्रीतम प्यारा प्यारा,
प्रीतम प्यारा प्यारा,
‘लहरी’ करूँ गुणगान मैं तेरा,
‘लहरी’ करूँ गुणगान मैं तेरा,
मिल जाए धाम तुम्हारा,
बंसी वारे कारे कृष्ण कन्हैया,
तेरी मैं दीवानी हो गई।।



बंसी वाले कारे कृष्ण कन्हैया,

तेरी मैं दीवानी हो गई,
भूली सुद्बुध सांवरे बिहारी,
भूली सुद्बुध सांवरे बिहारी,
तेरी मैं दीवानी हो गई,
बंसी वारे कारे कृष्ण कन्हैया,
तेरी मैं दीवानी हो गई।।

स्वर – उमा लहरी जी।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें