तेरे जैसा कोई नहीं हारे का सहारा है भजन लिरिक्स

तेरे जैसा कोई नहीं,
हारे का सहारा है,
खाटू वाले श्याम,
मैंने तुझको पुकारा है,
तेरे जैसा कोई नही,
हारे का सहारा है।।

तर्ज – चोरी चोरी मैंने भी तो।



दिया जो वचन माँ को,

अब तक निभा रहा,
हारे हुए भक्तों को,
गले से लगा रहा,
बिगड़ा नसीबा तूने,
हर दम संवारा है,
खाटू वाले श्याम,
मैंने तुझको पुकारा है,
तेरे जैसा कोई नही,
हारे का सहारा है।।



मुझको भी दुनिया ने,

इतना रुलाया है,
हारा हुआ दुखियारा,
तेरे पास आया है,
तेरे बिना श्याम कोई,
अब ना हमारा है,
खाटू वाले श्याम,
मैंने तुझको पुकारा है,
तेरे जैसा कोई नही,
हारे का सहारा है।।



रख लो शरण में बाबा,

वरना टूट जाऊँगा,
दिया ना सहारा तूने,
कहाँ फिर मैं जाऊँगा,
चौखट पे तेरी,
अब तो करना गुज़ारा है,
खाटू वाले श्याम,
मैंने तुझको पुकारा है,
तेरे जैसा कोई नही,
हारे का सहारा है।।



तेरी रहमतों से होती,

खुशियों की बारिशें,
चोखानी‘ जाने तू ही,
पूरी करे ख्वाहिशें,
मुझे तो भरोसा,
बाबा एक बस तुम्हारा है,
खाटू वाले श्याम,
मैंने तुझको पुकारा है,
तेरे जैसा कोई नही,
हारे का सहारा है।।



तेरे जैसा कोई नहीं,

हारे का सहारा है,
खाटू वाले श्याम,
मैंने तुझको पुकारा है,
तेरे जैसा कोई नही,
हारे का सहारा है।।

Singer – Kumar Vijay


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें