बनड़ो सो लागे लागे म्हारो श्याम भजन लिरिक्स

श्याम तेरो रूप मन भायो,
जियो हरषायो,
कुण म्हारे श्याम ने सजायो,
बनड़ो सो लागे लागे म्हारो श्याम,
बनडो सो लागे लागे म्हारो श्याम।।

तर्ज – पग पग दीप जलाएं।



मोर मुकुट माथे पे चमके,

कुण्डल भी काना मा दमके,
केसर चन्दन लगायो जमके,
सोणो सोणो तिलक लगायो,
और सुरमो घलायो,
कुण म्हारे श्याम ने सजायो,
बनडो सो लागे लागे म्हारो श्याम।।



खूब खिल्यो है बागे को रंग,

आज तेरो निरालो है ढंग,
देखे है जो भी रह जावे है वो दंग,
मोटा मोटा गजरा पहरायो,
छतर लटकायो,
कुण म्हारे श्याम ने सजायो,
बनडो सो लागे लागे म्हारो श्याम।।



बहोत घणो लगायो है इतर,

सज धज के बैठ्यो है ज्यू कुंवर,
लुणराई वारो लग जावे ना नजर,
आज म्हारे आनंद छायो,
और चाव है सवायो,
कुण म्हारे श्याम ने सजायो,
बनडो सो लागे लागे म्हारो श्याम।।



अद्भुत है सज्यो श्रृंगार,

मूलक रह्यो है लखदातार,
नैना माहि छलक रह्यो प्यार,
‘बिन्नू’ जो भी दर्शन पायो,
वो दुखड़ा भुलायो,
Bhajan Diary Lyrics,
कुण म्हारे श्याम ने सजायो,
बनडो सो लागे लागे म्हारो श्याम।।



श्याम तेरो रूप मन भायो,

जियो हरषायो,
कुण म्हारे श्याम ने सजायो,
बनड़ो सो लागे लागे म्हारो श्याम,
बनडो सो लागे लागे म्हारो श्याम।।

Singer – Balkishan Sharma


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

सुरंगो सावन है खिल्योड़ो उपवन है भजन लिरिक्स

सुरंगो सावन है खिल्योड़ो उपवन है भजन लिरिक्स

सुरंगो सावन है, खिल्योड़ो उपवन है, झूलो घलायो सरकार, थे झूलो मस्ती में सांवरा, सुरंगो सावन हैं, खिल्योड़ो उपवन है, झूलो घलायो सरकार।bd। तर्ज – हम तुम चोरी से। ठंडी…

श्याम रंगीला रंगीला श्याम मेरा रंगीला भजन लिरिक्स

श्याम रंगीला रंगीला श्याम मेरा रंगीला भजन लिरिक्स

श्याम रंगीला रंगीला, जहाँ के कण कण में, बसता है श्याम रंग, जहाँ हर कदम कदम पे, चलता श्याम संग, जहाँ चारों तरफ ख़ुशहाली है, जहाँ शामें रोज़ दीवाली है,…

श्याम की करते बाते गाते श्याम तराने हम श्याम दीवाने लिरिक्स

श्याम की करते बाते गाते श्याम तराने हम श्याम दीवाने लिरिक्स

श्याम की करते बाते गाते श्याम तराने, श्याम नाम से हमको सारे इस जग में पहचाने, हम श्याम दीवाने, हम श्याम दीवाने।। तर्ज – छोड़ो कल की बातें कल की।…

आयो है जनम दिन बाबा को भजन लिरिक्स

आयो है जनम दिन बाबा को भजन लिरिक्स

खाटू नगरी में धूम मची भारी, आयो है जनम दिन बाबा को, आयो हैं जनम दिन बाबा को।। धन्य हुयो पांडव कुल सारो, जन्मयो अहलवती घर लालो, कार्तिक उजयारी ग्यारस…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे