भक्ता ने दरश दिखायगो बाबो मोरछड़ी लहरायगो लिरिक्स

भक्ता ने दरश दिखायगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो।।



ऐसो मोरछड़ी को झाड़ो है,

कोई मोटो ना कोई माड़ो है,
कलयुग में नाम पुजवायगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो,
भक्तां ने दरश दिखायगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो।।



यो तीन बाण को धारी है,

नीला घोडा असवारी है,
भक्ता के मन में भाएगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो,
भक्तां ने दरश दिखायगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो।।



नीले घोड़े की लाल लगाम कसी,

झांकी सुन्दर मन माहि बसी,
दर्शन से हर फल पाएगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो,
भक्तां ने दरश दिखायगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो।।



‘कुंदन सतीश’ यश गावे है,

थाने ‘ॐ सनेही’ ध्यावे है,
हिवड़ा के बिच समाएगो,
Bhajan Diary,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो,
भक्तां ने दरश दिखायगो,
बाबो मोरछड़ी लहरायगो।।



भक्ता ने दरश दिखायगो,

बाबो मोरछड़ी लहरायगो।।

Singer – Satish Kundan


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें