बाबा ने मेरी लाज रखी भजन लिरिक्स

श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखी,
लाज रखी मेरी लाज रखी,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं।।

तर्ज – मुरली वाले ने घर लई।



पहली बार मैं गया धाम पर,

मन में श्याम की छवि को रखकर,
उनके दर्शन का प्याला पिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं।।



दुःख संकट ने जब था घेरा,

कोई नहीं था पास मेरे मेरा,
मैंने बाबा को याद किया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं।।



जो भी श्याम धाम पे जावे,

श्याम कृपा का फल वो पावे,
है सहारा ये हारों का श्याम,
बाबा ने मेरी लाज रखीं,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं।।



मैं सेवक हूँ श्याम का अपने,

कोई नहीं अब लगते अपने,
हिमांशु को सहारा दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं।।



श्याम बाबा ने इतना दिया,

बाबा ने मेरी लाज रखी,
लाज रखी मेरी लाज रखी,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
श्याम बाबा ने इतना दिया,
बाबा ने मेरी लाज रखीं।।

Singer – Himanshu Bansal


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें