ऐसी पिलाई साकी कुर्बान हो चुके हम भजन लिरिक्स

ऐसी पिलाई साकी,
कुर्बान हो चुके हम,
अब तक रहे जो बाकी,
अरमान खो चुके हम।।



करते हो दिल्लगी तुम,

अव्वल बनाके पागल,
कूचे में तेरे आकर,
बदनाम हो चुके हम,
ऐसी पिलायी साकी,
कुर्बान हो चुके हम।।



पहला ही जाम भरकर,

ऐसा हमे पिलाया,
सारी अक्ल हुनर खो,
नादान हो चुके हम,
ऐसी पिलायी साकी,
कुर्बान हो चुके हम।।



बिल्कुल नही रहे अब,

दुनिया के काम के कुछ,
बस अब तो तेरे दर के,
मेहमान हो चुके हम,
ऐसी पिलायी साकी,
कुर्बान हो चुके हम।।



रहती हवस ये दिल में,

भर भर के जाम पियें,
इनकार तुम ना करना,
इकरार कर चुके हम,
ऐसी पिलायी साकी,
कुर्बान हो चुके हम।।



ऐसी पिलाई साकी,

कुर्बान हो चुके हम,
अब तक रहे जो बाकी,
अरमान खो चुके हम।।

गायक – मनीष अनेजा जी।


पिछला भजनशीश गंग अर्धंग पार्वती सदा विराजत कैलासी स्तुति लिरिक्स
अगला भजनकौन सा मंत्र जपूं मैं भगवन तुम धरती पर आओ लिरिक्स

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें