अगली बार लेंगे प्रभु खाटू में जनम भजन लिरिक्स

अगली बार लेंगे प्रभु,
खाटू में जनम,
आपकी कसम,
आपकी कसम,
हर जनम गाएंगे हम,
आपके भजन,
आपकी कसम,
आपकी कसम।।

तर्ज – करवटे बदलते रहे।



आपसे ना जाने कैसे,

दिल के जुड़े तार है,
एक पल भी आपके,
जीना हुआ दुश्वार है,
क्या बताए हद से ज्यादा,
आपसे हमे प्यार है,
प्यार ना होगा कभी भी,
आपसे ये कम,
आपकी कसम,
आपकी कसम।।



दिल को क्या नैनो को भी,

समझाते सौ सौ बार है,
सपने में होगा उन्हें प्रभु,
आपका दीदार है,
तब कही वो बंद होने,
को होते तैयार है,
अब तो खुद के बस में नहीं,
अपना ही तन मन,
आपकी कसम,
आपकी कसम।।



जन्मों जनम के करम से,

आप मिले श्याम हो,
एक जनम में भला कैसे,
पूरे अरमान हो,
इस कदर किस्मत हमारी,
हमपे मेहरबान हो,
हर जनम में आए ‘सोनू’,
आपकी शरण,
Bhajan Diary,
आपकी कसम,
आपकी कसम।।



अगली बार लेंगे प्रभु,

खाटू में जनम,
आपकी कसम,
आपकी कसम,
हर जनम गाएंगे हम,
आपके भजन,
आपकी कसम,
आपकी कसम।।

स्वर – राजू मेहरा जी।