आ जाओ गजानन प्यारे भजन लिरिक्स

ओ बाबा तेरे भक्त बुलाये,
आ जाओ गजानन प्यारे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
अब देर करो ना आ जाओ द्वारे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
आ जाओ गजानन प्यारें।bd।

तर्ज – तेरी बंजारन रस्ता।

देखे – आओ अंगना पधारो श्री गणेशजी।



सब देवन में देव कहाओ,

माँ गौरा के लाल कहाओ,
शिव शंकर संग रिद्धि सिद्धि,
ले आओ द्वार हमारे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
आ जाओ गजानन प्यारें।bd।



भांति भांति के फूल मंगाए,

घर आंगन और द्वार सजाये,
धूप दीप से महके मंडप,
मोदक भोग सजा रे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
आ जाओ गजानन प्यारें।bd।



घर आकर के फिर नही जाना,

हम सबके मन मे बस जाना,
चाह ‘मुकेश’ की एक ही बाबा,
सभा में रंग बरसा रे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
आ जाओ गजानन प्यारें।bd।



ओ बाबा तेरे भक्त बुलाये,

आ जाओ गजानन प्यारे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
अब देर करो ना आ जाओ द्वारे,
आ जाओ गजानन प्यारें,
आ जाओ गजानन प्यारें।bd।

स्वर / लेखन – मुकेश कुमार जी।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

मात पिता को पानी ना पूछे भंडारे करवाते है लिरिक्स

मात पिता को पानी ना पूछे भंडारे करवाते है लिरिक्स

मात पिता को पानी ना पूछे, भंडारे करवाते है, भाई का हक़ मार के बैठे, दानवीर कहलाते है।bd। तर्ज – क्या मिलिए ऐसे लोगो से। छोटे भाई का हक़ मारा,…

यूँ ही नहीं ऐसे खाटू में दीनो का मेला लगता है भजन लिरिक्स

यूँ ही नहीं ऐसे खाटू में दीनो का मेला लगता है भजन लिरिक्स

यूँ ही नहीं ऐसे खाटू में, दीनो का मेला लगता है, जग छोड़े जिसे मेरा बाबा उसे, पलकों पे बिठाये रखता है, यूँ ही नहीं ऐसे खाटु में, खाटु में,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

1 thought on “आ जाओ गजानन प्यारे भजन लिरिक्स”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे