Category: प्रकाश माली भजन

Prakash Mali Bhajan

प्रकाश माली भजनराजस्थानी भजनविविध भजन

मरुधर में ज्योत जगाय गयो प्रकाश माली भजन लिरिक्स

मरुधर में ज्योत जगाय गयो, बाबो धोली ध्वजा फहराय गयो, म्हारो साँवरियो बनवारी, बण्यो पचरंग पेचाधारी, भक्ता रे कारण, अजमल […]

प्रकाश माली भजनराम भजन

सीताराम सीताराम सीताराम कहिये जाहि विधि राखे राम भजन लिरिक्स

सीताराम सीताराम सीताराम कहिये, जाहि विधि राखे राम ताहि विधि रहिये।। ज़िन्दगी की डोर सौंप हाथ दीनानाथ के, महलों मे […]

प्रकाश माली भजनराजस्थानी भजन

मायड़ थारो वो पुत कठे प्रकाश माली भजन लिरिक्स

हल्दी घाटी में समर लड़यो, वो चेतक रो असवार कठे? मायड़ थारो वो पुत कठे? वो एकलिंग दीवान कठे? वो मेवाड़ी सिरमौर […]

दुर्गा माँ भजनप्रकाश माली भजनराजस्थानी भजन

चौसठ जोगणी रे भवानी देवलिये रमजाय भजन लिरिक्स

चौसठ जोगणी रे भवानी, देवलिये रमजाय घूमर घालणि रे भवानी, देवलिये रमजाय।। श्लोक देवा में देवी बड़ी, और बड़ी जगदम्बे माय, […]

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।