प्रथम पेज कृष्ण भजन विनती पे करल्यो ना गौर श्याम भजन लिरिक्स

विनती पे करल्यो ना गौर श्याम भजन लिरिक्स

बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यो ना गौर,
ऐ जी अइया कइया हुया थे कठोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर।।



कदसे खड्यो हूँ,

जिद पे अड़यो हूँ,
म्हने जोवो जी,
एक बार टोवो जी,
कालजड़ो कमजोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर,
ऐ जी अइया कइया हुया थे कठोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर।।



मन म्हारो काचो जी,

पण यो है सांचो जी,
थे जांचो जी,
ओ मनडे ने बांचो जी,
मनडे पे चाले ना जोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर,
ऐ जी अइया कइया हुया थे कठोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर।।



नैणा म्हारा भीगे,

थाने उडीके,
थे आओ जी,
ओ ना तरसाओ जी,
थारे सिवा ना कोई ठोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर,
ऐ जी अइया कइया हुया थे कठोर,
Bhajan Diary Lyrics,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर।।



बाबा जी म्हारी,

विनती पे करल्यो ना गौर,
ऐ जी अइया कइया हुया थे कठोर,
बाबा जी म्हारी,
विनती पे करल्यों ना गौर।।

स्वर – संजू शर्मा जी।


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।