वेगा पधारो म्हारा सतगुरु कठिन घडी है

वेगा पधारो म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

दोहा – सतगुरु आवत देखीया,
ज्यारे खांदे लाल बंदूक,
गोली दागी हरि नाम री,
तो भाग गया जमदूत।

आप बिना मेरो कौन धणी है,
आप बिना मेरों कौन धणी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।



भंवर सागर ओ अथंग जल भरीयो,

भंवर सागर अथंग जल भरीयो,
अरे खेवटीया बनीया आप धणी रे,
खेवटीया बनीया आप धणी रे,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।



दुखीया ने देख दाता देर मत करजो,

दुखीया ने देख दाता देर मत करजो,
अरे देर करन री वेला ओर घडी है,
देर करन की वेला ओर घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।



सतगुरु दाता पर उपकारी,

सतगुरु दाता पर उपकारी,
चरणे आया ने लेवे ऊबारी,
चरणे आया ने लेवे ऊबारी,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।



ए मीरा कहे रे प्रभु अरज हमारी,

मीरा कहे रे प्रभु अरज हमारी,
अरे अरज थोडी ओर गरज घणी है,
अरज थोड़ी ओर गरज घणी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।



आप बिना मेरो कौन धणी है,

आप बिना मेरों कौन धणी है,
वेगा पधारो म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है,
वेगा पधारों म्हारा सतगुरु,
कठिन घडी है।।

गायक – श्याम पालीवाल जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

भक्तो चालो सारगवा दरबार मेलो वटे भारी लागे

भक्तो चालो सारगवा दरबार मेलो वटे भारी लागे

भक्तो चालो सारगवा दरबार, मेलो वटे भारी लागे, भारी लागे जी मेलों, भारी लागे, भगता चालो सारगवा दरबार, मेलो वटे भारी लागे।। चेत सुदी एकम ने मेलो, भगता को वो…

गोविंद थे छो दया निधान झोली भर दो जी भगवान

गोविंद थे छो दया निधान झोली भर दो जी भगवान

गोविंद थे छो दया निधान, झोली भर दो जी भगवान, राखो घर आया को मान, मैं सुनाऊं विनती।। आप बिराजो निज मंदिर में, सामे कंचन मेहल, राधा जी ने लेर…

मीरा बावरी कानुड़ा थारे कारण हो गई रे भजन लिरिक्स

मीरा बावरी कानुड़ा थारे कारण हो गई रे भजन लिरिक्स

मीरा बावरी कानुड़ा थारे, कारण हो गई रे मीरा बावरी, कानुडा थारे कारण, हो गई रे मीरा बावरी।। अन्न पानी नही भावे म्हाने, वीरह घणी सतावे, अन्न पानी नहीं भावे…

पूजा रा फल भाल भोली म्हारी आत्मा रे भजन लिरिक्स

पूजा रा फल भाल भोली म्हारी आत्मा रे भजन लिरिक्स

पूजा रा फल भाल, भोली म्हारी आत्मा रे, ईश्वर पूजा रा फल भाल।। कोई चाले हाथी घोड़े, कोई ऊँटे सवार, कोई चाले पगले पाले, किन रेई माथे भार। भोली म्हारी…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे