वारी रे रुणीजा रा राजा तारो पोकरणया में स्थान

वारी रे रुणीजा रा राजा तारो पोकरणया में स्थान

वारी रे रुणीजा रा राजा,
तारो पोकरणया में स्थान,
बाजरिया बाजा,
थारा घोडा ने घुमा दे रे,
मारा पीछम दिशा रा,
बादशाह रे।।


थारी माता मीणा दे जन्मा,
बांजणी रे,
जीके कोई नहीं संतान,
मरीचि ला जा,
थारा घोडा ने घुमा दे रे,
मारा पीछम दिशा रा,
बादशाह रे।।


थारौ पीता कहीं जे,
अजमाल जी रे,
जां पर राजी हुया भगवान,
द्वारका रा राजा,
थारा घोडा ने घुमा दे रे,
मारा पीछम दिशा रा,
बादशाह रे।।


ब्रह्मदेव आया छे,
पावणा रे,
जी को राख्यो हाथ भगवान,
द्वारका रा राजा,
थारा घोडा ने घुमा दे रे,
मारा पीछम दिशा रा,
बादशाह रे।।


आया भादवा महीना री,
दूज में ने रे,
थारो मालुनि करे गुणगान,
दरश दिखलाजा,
थारा घोडा ने घुमा दे रे,
मारा पीछम दिशा रा,
बादशाह रे।।


वारी रे रुणीजा रा राजा,
तारो पोकरणया में स्थान,
बाजरिया बाजा,
थारा घोडा ने घुमा दे रे,
मारा पीछम दिशा रा,
बादशाह रे।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें