तू मेरा दाता है तू मेरा रहबर है भजन लिरिक्स

तू मेरा दाता है तू मेरा रहबर है,
मेरी इस कहानी का तू हीरो है,
ये तेरी कृपा ही है वरना,
अपनी तक़दीर तो जीरो है।।

तर्ज – तू मेरा जानू है तू मेरा दिलबर है।



मेरे इस जीवन का प्रभु,

सार तुम्ही हो,
आधार तुम्ही हो,
मेरे भीतर का,
कलाकार तुम्ही हो,
जिस धारा मेरी हर स्वांस,
बहती वो धार तुम्ही हो,
मेरे दिल में बसता है जो,
प्यार तुम्ही हो,
सारी दुनिया कुछ भी समझे,
मैं तो बस इतना जानू,
तु मेरा दाता हैं तु मेरा रहबर है,
मेरी इस कहानी का तू हीरो है,
ये तेरी कृपा ही है वरना,
अपनी तक़दीर तो जीरो है।।



जिस रुतबे से जीते है,

वो शान है तुमसे,
पहचान है तुमसे,
बुझे बुझे चेहरों पे,
मुस्कान है तुमसे,
जिस दम पे ये हमने,
आसमान छुआ है,
वो उड़ान है तुमसे,
मुझमे जो भी अच्छा है,
वो श्याम है तुमसे,
सबके चेहरों पे परदे है,
परदे का सच तू जाने,
तु मेरा दाता हैं तु मेरा रहबर है,
मेरी इस कहानी का तू हीरो है,
ये तेरी कृपा ही है वरना,
अपनी तक़दीर तो जीरो है।।



खुद से ज़्यादा तू मेरा,

मान रखता है,
सम्मान रखता है,
सब तू ही करता,
मेरा नाम करता है,
अपनो से बढ़कर,
मेरा तू ध्यान रखता है,
सुबह शाम रखता है,
‘सोनू’ तेरी रहमत को,
प्रणाम करता है,
जग वो देखे जो तू दिखाए,
सच क्या है ये मैं जानू,
तु मेरा दाता हैं तु मेरा रहबर है,
मेरी इस कहानी का तू हीरो है,
ये तेरी कृपा ही है वरना,
अपनी तक़दीर तो जीरो है।।



तु मेरा दाता है तू मेरा रहबर है,

मेरी इस कहानी का तू हीरो है,
ये तेरी कृपा ही है वरना,
अपनी तक़दीर तो जीरो है।।

Singer – Sheetal Pandey


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें