तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार प्यारे जू भजन लिरिक्स

0
296
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार प्यारे जू भजन लिरिक्स

तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे,
बलिहार प्यारे जू,
बलिहार प्यारे जू।।



तेरे बाल अजब घुंगराले,

बादल सो कारे कारे,
तेरी मोर मुकट लटकनिया पे,
बलिहार प्यारे जू,
बलिहार प्यारे जू।।



तेरी चाल अजब मतवाली,

लगती है प्यारी प्यारी,
तेरी पायल की पैंजनिया पे,
बलिहार प्यारे जू,
बलिहार प्यारे जू।।



तेरे नैन बड़े मतवारे,

मटके है कारे कारे,
तेरी तिरछी सी चितवनिया पे,
बलिहार प्यारे जू,
बलिहार प्यारे जू।।



तेरे संग में राधा प्यारी,

लगती है सबसे न्यारी,
इस युगल छवि पे मैं जाऊं,
बलिहार प्यारे जू,
बलिहार प्यारे जू।।



तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे,

बलिहार प्यारे जू,
बलिहार प्यारे जू।।

स्वर – प्राची देवी जी।
प्रेषक – अमित शर्मा (हिसार)।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें