सोना री झूमरीया रे चाँदी री झूमरीया घड़वादे मारा कानजी

सोना री झूमरीया रे चाँदी री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया।।



अरे पगा री पायल कानजी बरसाने भूल आयी,

कान मारा बरसाने भूल आयी,
अरे इन झूमरीया रे कारणे मै लारे लारे आयी,
अरे इन झूमरीया रे कारणे मै लारे लारे आयी,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया।।



अरे लेजाती आ गुजरी कान्हा,

लेजाती आयी कान मारा लेजाती आयी,
आपा दोनो ऐसा लागा माल पतासा खीर,
अरे आपा दोनो ऐसा लागा माल पतासा खीर,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया।।



अरे जमुना रे ओडी मथुरा ओडी,

जमुना रे ओडी मथुरा ओडी कोई न पायो तीर,
कान भोला कोई न पायो तीर,
अरे एक केनो मानले अरे एक केनो मानले,
मारा ननदल बाई रा बीर,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया।।



अरे चन्द्र सखी भजबाल की शोभा,

चन्द्र सखी भजबाल की शोभा,
थारा ही गुण गाय कानजी,
थारा ही गुण गाय एकर वाने दर्शन दिजो,
अरे एकर वाने दर्शन दिजो,
मारे द्वारे आव अरे एकर वाने,
दर्शन दिजो मारे द्वारे आव,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया।।



सोना री झूमरीया रे चाँदी री झूमरीया,

घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया,
घड़वादे मारा कानजी सोना री झूमरीया।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें