प्रथम पेज हनुमान भजन सिया जी से पूछ रहे अंजनी के लाला भजन लिरिक्स

सिया जी से पूछ रहे अंजनी के लाला भजन लिरिक्स

सिया जी से पूछ रहे अंजनी के लाला,
मांग में सिंदूर मैया किस लिए डाला,
सिया जी से पूछ रहें अंजनी के लाला।।



हनुमत की वाणी सुन सिया मुस्कुराई,

पीछा छुड़ाने की युक्ति बनायी,
खुश होंगे मेरे स्वामी इसलिए डाला,
सिया जी से पूछ रहें अंजनी के लाला,
मांग मे सिंदूर मैया किस लिए डाला।।



हनुमत ने सोचा मैं भी राम को रिझाउंगा,

मैया ने लगाया मैं ज्यादा लगाऊंगा,
ऐसा कहके हनुमान ने पूरा तन रंग डाला,
सिया जी से पूछ रहें अंजनी के लाला,
मांग मे सिंदूर मैया किस लिए डाला।।



मैया ने बताया वही रास्ता अपनाऊंगा,

राम जी के चरणों का दास बन जाऊंगा,
राम जी के नाम की जपूंगा मैं तो माला,
सिया जी से पूछ रहें अंजनी के लाला,
मांग मे सिंदूर मैया किस लिए डाला।।



जब दरबार में बैठे श्री राम जी,

चरणों में शीश झुकाएं हनुमान जी,
अजर अमर तुम अंजनी के लाला,
ऐसा वरदान सीता माता ने दे डाला,
सिया जी से पूछ रहें अंजनी के लाला,
मांग मे सिंदूर मैया किस लिए डाला।।



सिया जी से पूछ रहे अंजनी के लाला,

मांग में सिंदूर मैया किस लिए डाला,
सिया जी से पूछ रहें अंजनी के लाला।।

Singer – Meenakshi Mukesh
Upload By – Pandit Reeta Gautam
Shri Shyam Sakha Mandal Khair, Aligarh
9997234758


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।