श्याम मुझे नौकर रखलो अपने ही द्वारे का लिरिक्स

श्याम मुझे नौकर रखलो,
अपने ही द्वारे का,
सदा अब बनके रहूँगा,
मैं चाकर प्यारे का,
श्याम मुझे नौकर रखलों,
अपने ही द्वारे का।।



श्याम मुझे रखलो परमानेंट,

कभी ना होगी मेरी एब्सेंट,
मैं दर्शन रोज़ करूँगा,
हारे के सहारे का,
बाबाजी मुझे नौकर रखलो,
अपने ही द्वारे का।।



बाबा जी रहूं तेरा सेवादार,

रोज़ दूँ अंगना तेरा बुहार,
बाबा से मैं तो प्यार करूँगा,
मैं नित श्रृंगार करूँगा,
भक्तों के दुलारे का,
बाबाजी मुझे नौकर रखलो,
अपने ही द्वारे का।।



मुझे दुनिया ने बहुत सताया,

हार के तेरे द्वारे आया,
नज़र ‘सोनू’ पर करदो,
अपने ‘शर्मा’ पर कर दो,
दास तेरे द्वारे का,
बाबाजी मुझे नौकर रखलो,
अपने ही द्वारे का।।



श्याम मुझे नौकर रखलो,

अपने ही द्वारे का,
सदा अब बनके रहूँगा,
मैं चाकर प्यारे का,
श्याम मुझे नौकर रखलों,
अपने ही द्वारे का।।

Singer – Sonu Sharma


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें