श्याम के दरबार से खाली नहीं जाएंगे भजन लिरिक्स

श्याम के दरबार से,
खाली नहीं जाएंगे,
खाली झोली आये है,
भरके झोली जाएंगे।bd।

तर्ज – आज मंगलवार है।



बड़ी दूर से आस लगाकर,

तेरे दर पे आये हो,
अब तो संकट मेटो बाबा,
दुःख के बहुत सताए हो,
तेरे दर को छोड़कर,
और कहाँ हम जाएंगे,
खाली झोली आये है,
भरके झोली जाएंगे।bd।



भटक भटक कर ये जग देखा,

कोई नहीं हमारा हो,
तेरा ही आधार हमें तो,
तेरा एक सहारा हो,
तेरी महिमा श्याम हम,
भूल कभी न पाएंगे,
खाली झोली आये है,
भरके झोली जाएंगे।bd।



अनगिण पापी तारे तुमने,

अनगिण भगत उबारे हो,
एक तेरे दर्शन से बाबा,
हो गए वारे न्यारे हो,
दर्शन करने आये है,
दर्शन करके जाएंगे,
खाली झोली आये है,
भरके झोली जाएंगे।bd।



नज़र दया की हमपे रखना,

सदा बुलाते रहना हो,
सबकी झोली भरदो बाबा,
‘बिन्नू’ का ये कहना हो,
सेवक तेरे द्वार से,
हँसते हँसते जाएंगे,
खाली झोली आये है,
भरके झोली जाएंगे।bd।



श्याम के दरबार से,

खाली नहीं जाएंगे,
खाली झोली आये है,
भरके झोली जाएंगे।bd।

Singer – Keshav & Saurabh Madhukar


पिछला भजनमैंने रख लो अपने पास सतगुरु जी भजन लिरिक्स
अगला भजनपास कुछ भी नहीं है खोने को श्याम भजन लिरिक्स

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें