श्याम का मैं फैन हूँ नाम है सुदामा रे लिरिक्स

श्याम का मैं फैन हूँ,
नाम है सुदामा रे,
बचपन का यार मैं हूँ,
श्याम का दिवाना रे।।

तर्ज – बचपन का प्यार।



दीन है लाचार है,

तन का नही ठिकाना रे,
लगता नही तू,
श्याम का दिवाना रे,
बचपन की यारी मेरी,
भूल नहीं जाना रे।।



सिर पे नही पगड़ी रे,

तन पे नही जामा है,
दीन है गरीब है,
नाम है सुदामा रे,
श्याम का मैं फैन हूं,
नाम है सुदामा रे,
बचपन की यारी मेरी,
भूल नहीं जाना रे।।



झट पट दौड़े श्याम,

मिलने सुदामा रे,
लिपट लिपट रोए,
यार ये सुदामा रे,
बचपन की यारी मेरी,
भूल नहीं जाना रे।।



सेठों का तू सेठ है,

द्वारीकारा सेठ है,
बचपन की यारी,
मेरी भूल नहीं जाना रे,
बचपन की यारी मेरी,
भूल नहीं जाना रे।।



यारो का तू यार है,

दीनों का तू नाथ है,
यार इस सुदामा को,
भूल नहीं जाना रे,
बचपन की यारी मेरी,
भूल नहीं जाना रे।।



श्याम का मैं फैन हूँ,

नाम है सुदामा रे,
बचपन का यार मैं हूँ,
श्याम का दिवाना रे।।

Singer – Krishna Rajput
9009204035


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें