शिव गौरां के मिलन का उत्सव मिलकर सब मना लो लिरिक्स

शिव गौरां के मिलन का उत्सव,
मिलकर सब मना लो,
सावन के महीने में,
भोले के दर्शन पा लो।।

तर्ज – सावन का महीना।



देवों के हैं देव ये तो,

भोले हैं भंडारी,
गौरां जी के संग में,
विराजें त्रिपुरारी,
शरण में आ के इनकी,
चरणों में ध्यान लगा लो,
सावन के महीने में,
भोले के दर्शन पा लो।।



भक्ति की ज्योती अपने,

मन में जलायो,
जय हो भोलेनाथ जय हो,
महादेव गायो,
होंगी मुरादें पूरी,
तुम हमसे ये लिखवा लो,
सावन के महीने में,
भोले के दर्शन पा लो।।



भक्तों के मन में क्या है,

सब जानते हैं,
बोले बिना ही प्रभू,
पहचानते है,
डग मग नैया डोले,
शम्भु को मीत बना लो,
सावन के महीने में,
भोले के दर्शन पा लो।।



बिना शिव की मर्जी के,

फूल खिले ना,
इनके इशारे बिना,
पत्ता भी हिले ना,
“सदावर्तीया” शिव शंकर,
को मन में तुम बसा लो,
सावन के महीने में,
भोले के दर्शन पा लो।।



शिव गौरां के मिलन का उत्सव,

मिलकर सब मना लो,
सावन के महीने में,
भोले के दर्शन पा लो।।

Singer / Upload – Vicky Sadavartia
9356488811


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें