सतजुगा रा बेटा श्रवण ऐडा तो हुआ भजन लिरिक्स

सतजुगा रा बेटा श्रवण ऐडा तो हुआ भजन लिरिक्स

सतजुगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।

दोहा – सतजुग सामी आवतो,
ओर कलजुग माँ री थाप,
अरे बेटा ऊबा सामी बोले,
देख खड़ा ये बाप।

सतजुगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों,
ऐडा तो हुआ,
अरे माँ बाप री कावड लेने,
गंगा जी गीया ए हा।।



अरे आजकल रा छोरा हरामी,

ऐडा तो हुआ रे संतों,
ऐडा तो हुआ,
अरे परणी नार ने लेने वे तो,
न्यारा रे हुआ ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



अरे मारे घरो मे खीर लापसी,

थारो ने खाटी राब,
अरे असुर किदो ने नहीं रे माने,
हल्ला करी हर काम संतों ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



अरे सतजुगा रा साधु संतों,

ऐडातो हुआ रे संतों,
ऐडातो हुआ,
अरे हरी भजन रे कारने,
अनधन त्याग रे दिया ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



अरे आजकल रा झूठा,

साधु ऐडातो हुआ रे संतों,
ऐडातो हुआ,
अरे तिलक लगावे भगवा पहरने,
पिये दारू रा गुका ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



अरे सतजुगा रा चेला श्रवण,

ऐडातो हुआ रे श्रवण,
ऐडातो हुआ,
अरे गुरू री आज्ञा रे कारण,
माथा काट दिया ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



अरे आजकल रा चेला श्रवण,

ऐडातो हुआ रे श्रवण,
ऐडातो हुआ,
अरे गुरु रा चप्पल लेने वेतो,
गंगाजी गीया ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



अरे माँ बाप ने भूंडा बोलो,

हावरीयो ने सीधा रे संतों,
हावरीयो ने सीधा ए हा,
अरे केवे सतगुरु सुनो रे मानको,
नरकपुरी जाय सीधा रे संतों,
नरकपुरी जाय सीधा ए हा,
सतजूगा रा बेटा श्रवण,
ऐडा तो हुआ रे संतों।।



सतजुगा रा बेटा श्रवण,

ऐडा तो हुआ रे संतों,
ऐडा तो हुआ,
अरे माँ बाप री कावड लेने,
गंगा जी गीया ए हा।।

स्वर – सरिता जी खारवाल।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें