सती माता उदय कंवर की आरती लिरिक्स

सती माता उदय कंवर की आरती,

शुद्ध बुद्ध देवो करो मत देरी,
आरती उतारूँ मैया तेरी।।



उदय कंवर शेखावत मैया,

पार करो मेरी अटकी नैया,
आप बिना नही और खिवैया,
सहाय करो आवो नेङी,
आरती उतारूँ मैया तेरी।।



सामी मे शक्ती प्रकटाई,

ले अवतार जूसरी में आईं,
अभय सिंह जी के सगं मे ब्याही,
निश दिन रही चरणा की चेरी,
आरती उतारूँ मैया तेरी।।



हार श्रृंगार सज्यो सब अंग मे,

सदा रहे भक्ति का रंग मे,
सती हुया अभय सिंह जी के सगं मे,
क्रपा बही ईश्वर तेरी,
आरती उतारूँ मैया तेरी।।



दर्शन किन्हा मैया तेरा आकर,

खुशी हुया मे दर्शन पाकर,
नाथूराम चरणा को चाकर,
आरती स्वीकार करो मेरी,
आरती उतारूँ मैया तेरी।।



शुद्ध बुद्ध देवो करो मत देरी,

आरती उतारूँ मैया तेरी।।

प्रेषक – रामानन्द प्रजापत जूसरी।
9982292201


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें