सांवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार भजन लिरिक्स

सांवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार,
भक्तों के पालनहार,
मैं तेरी जय जयकार करूँ,
बाबा तेरे चरण पडूँ।।

तर्ज – ना कजरे की धार।



ओ नीले घोड़े वाले,

तेरे हैं खेल निराले,
जो आया तेरे द्वारे,
उसके हो गए वारे न्यारे,
ओ हारे के सहारे,
ओ हारे के सहारे,
तेरी महिमा अपरम्पार,
साँवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार,
भक्तों के पालनहार,
मैं तेरी जय जयकार करूँ,
बाबा तेरे चरण पडूँ।।



तुम कलयुग के अवतारी,

तुमसे है दुनिया सारी,
वो नैया कभी ना डूबे,
जिसकी पतवार सवारी,
करते हो तुम सदा ही,
करते हो तुम सदा ही,
हम दीनो का उद्धार,
साँवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार,
भक्तों के पालनहार,
मैं तेरी जय जयकार करूँ,
बाबा तेरे चरण पडूँ।।



राजा हो चाहे भिखारी,

सब तेरे दर के पुजारी,
तेरी देख छवि अति प्यारी,
मैं जाऊं वारि वारि,
ओ सेठों के शहंशाह,
ओ सेठों के शहंशाह,
मुझ पर कर उपकार,
साँवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार,
भक्तों के पालनहार,
मैं तेरी जय जयकार करूँ,
बाबा तेरे चरण पडूँ।।



जिसने भी तुझे पुकारा,

तूने दे दिया सहारा,
‘पाठक’ तेरी शरण में आया,
अब छोड़ के ये जग सारा,
‘अर्णव माधव’ का तुमको,
‘अर्णव माधव’ का तुमको,
प्रभु बारम्बार प्रणाम,
साँवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार,
भक्तों के पालनहार,
मैं तेरी जय जयकार करूँ,
बाबा तेरे चरण पडूँ।।



सांवरिया सरकार सुनले मेरी दरकार,

भक्तों के पालनहार,
मैं तेरी जय जयकार करूँ,
बाबा तेरे चरण पडूँ।।

Singer – Prashant Suryavanshi


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें