प्रथम पेज प्रकाश माली भजन सखी री मैं तो जाऊंगी बाबा के पास रामदेवजी भजन

सखी री मैं तो जाऊंगी बाबा के पास रामदेवजी भजन

सखी री मैं तो जाऊंगी,
बाबा के पास,
घूम रहा है इन अखियन में,
घूम रहा है इन अखियन में,
रूनीचा दरबार,
सखी रे मै तो जाऊंगी,
बाबा के पास।।



बाबा मेरे सपने में आए,

सिर पर हाथ रखा और बोले,
बाबा मेरे सपने में आए,
सिर पर हाथ रखा और बोले,
तेरे भरूंगा भण्डार,
सखी रे मै तो जाऊंगी,
बाबा के पास।।



मैंने सुना है मन मोहती है,

रूनीचा के मद मस्त हवाएँ,
मैने सुना है मन मोहती है,
रूनीचा के मद मस्त हवाएँ,
झूम के आए बाहार,
सखी रे मै तो जाऊंगी,
बाबा के पास।।



कंचन सी काया है बाबा की,

अद्भुत है माया बाबा की,
कंचन सी काया है बाबा की,
अद्भुत है माया बाबा की,
पाट मुरादें अपार,
सखी रे मै तो जाऊंगी,
बाबा के पास।।



सखी री मैं तो जाऊंगी,

बाबा के पास,
घूम रहा है इन अखियन में,
घूम रहा है इन अखियन में,
रूनीचा दरबार,
सखी रे मै तो जाऊंगी,
बाबा के पास।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।