नजर के सामने खड़ा हूँ श्याम भजन लिरिक्स

नजर के सामने खड़ा हूँ श्याम,
देख लो ना जरा मुझे श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम।।

तर्ज – नजर के सामने।



हालत मेरी सांवरियां,

तुम से नहीं छिपी है,
पर तेरी किरपा बाबा,
अब तक नहीं दिखी है,
मर ना जाऊँ कही,
कर दे सबकुछ सही,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम।।



सोचा मेरा काम बनेगा,

तब आऊंगा खाटू,
रोते रोते नहीं मैं बस,
हँसता आऊंगा खाटू,
आ गया सांवरे,
देख ले घाव रे,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम।।



सुन के आया सांवरिया,

एक यही जयकारा,
हारे का सहारा है,
बाबा श्याम हमारा,
मैं हूँ तेरा कन्हैया,
तू है मेरा कन्हैया,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम।।



नजर के सामने खड़ा हूँ श्याम,

देख लो ना जरा मुझे श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम,
नजर के सामने खड़ा हूं श्याम।।

स्वर – कन्हैया मित्तल जी।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें