मुझे भी अपने चरणों में जगह दो साँवरे प्रियतम भजन लिरिक्स

मुझे भी अपने चरणों में,
जगह दो साँवरे प्रियतम,
दयाकर अपने दामन में,
छिपा लो साँवरे प्रीतम।।



बैरी माया से छलिया मैं,

बड़ा घबरा गया हूँ मैं,
मुझे दो आसरा अब तो,
संभालो साँवरे प्रियतम,
मुझे भी अपने चरणो में,
जगह दो साँवरे प्रियतम,
दयाकर अपने दामन में,
छिपा लो साँवरे प्रीतम।।



मैं काबिल तो नहीं लेकिन,

तुम अपनी मेहरबानी से,
मुझे भी वेग करुणाकर,
संभालो साँवरे प्रियतम,
मुझे भी अपने चरणों में,
जगह दो साँवरे प्रियतम,
दयाकर अपने दामन में,
छिपा लो साँवरे प्रीतम।।



जय राधे राधे राधे गोविन्द,

गोविन्द राधे,
जय राधे राधे राधे गोविन्द,
गोविन्द राधे,
जय राधे राधे राधे गोविन्द,
गोविन्द राधे,
गोपाल राधे,
जय राधे राधे राधे गोविन्द,
गोविन्द राधे,
जय राधे राधे राधे गोविन्द,
गोविन्द राधे।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें