मिलना है मिलना क्या मिलना हमारा खाटु श्याम भजन

मिलना है मिलना क्या मिलना हमारा खाटु श्याम भजन
कृष्ण भजन

मिलना है मिलना क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा।।



याचक है दर के तुम्हारी ओ श्याम,

याचक है दर के तुम्हारी ओ श्याम,
रहता लबों पर तुम्हारा ही नाम,
दर्शन सुदर्शन चाहे हर पल तुम्हारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
मिलना है मिलना क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा।।



बैठे हैं पलकें बिछाए ओ श्याम,

राहों में तेरी बिछ जाएं ओ श्याम श्याम
वंदन अभिनंदन स्वीकार हो हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
मिलना हैं मिलना क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा।।



बेहाली का आलम कसक दिल की शाम,

बना दे दीवाना तेरा हमें श्याम,
मिलता रहे ‘टीकम’ सत्संग तुम्हारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
मिलना हैं मिलना क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा।।



मिलना हैं मिलना क्या मिलना हमारा,

पल दो पल का क्या मिलना हमारा,
पल दो पल का क्या मिलना हमारा।।

 – गायक –
जयकुमार दीवाना ( मुंबई )
– संपर्क –
8828188105


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।