मेरी विनती सुनो एक बार भजन लिरिक्स

मेरी विनती सुनो एक बार,
ओ खाटू वाले,
मैं आया तेरे द्वार,
ओ खाटू वाले,
मेरी विनती सुनों एक बार,
ओ खाटू वाले।।

तर्ज – दम आवे ना आवे।



तेरे दर का मैं हूँ भिखारी,

भर दो मेरी झोली खाली,
मेरी बिगड़ी बना दो श्याम,
मेरे बिगड़े दो काम,
ओ खाटू वाले,
मेरी विनती सुनों एक बार,
ओ खाटू वाले।।



हार के तेरे दर पे हूँ आया,

बाबा कैसी तेरी माया,
मेरी बाह को थामो श्याम,
मेरी राहे हो आसान,
ओ खाटू वाले,
मेरी विनती सुनों एक बार,
ओ खाटू वाले।।



मेरी विनती सुनो एक बार,

ओ खाटू वाले,
मैं आया तेरे द्वार,
ओ खाटू वाले,
मेरी विनती सुनों एक बार,
ओ खाटू वाले।।

Singer & Writer – Sachin Sharma


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें