मेरी सांसे प्रभु जब तक होंगी भजन लिरिक्स

मेरी सांसे प्रभु जब तक होंगी भजन लिरिक्स

मेरी सांसे प्रभु जब तक होंगी,
तेरी पूजा तेरी सेवा,
प्रभु तब तक होंगी,
मेरी सांसे।।

तर्ज – मेरे महबूब क़यामत होंगी।



तेरी गली में जो जाता नहीं,

क्या है समझ तू आता नहीं,
बनता हमारा नाता नहीं,
अब आया समझ,
तू है कितना सहज,
मैंने खाटू जाके जाना,
तेरी गलियाँ मेरी जन्नत होंगी,
तेरी पूजा तेरी सेवा,
प्रभु तब तक होंगी,
मेरी सांसे।।



तेरे भरोसे कश्ती मेरी,

तुझसे बनी है हँस्ती मेरी,
तेरे भजन है मस्ती मेरी,
तू है तो मैं हूँ यहीं सबसे कहूँ,
हर पल करता शुकराना,
ना कोई दूसरी मन्नत होंगी,
तेरी पूजा तेरी सेवा,
प्रभु तब तक होंगी,
मेरी सांसे।।



गाता रहूँ मैं आता रहूँ,

तेरी कृपा मैं पाता रहूँ,
श्याम कहें मुस्काता रहूँ,
चाहूँ कुछ और ना,
ना मुझे छोड़ना,
सच कहता है दीवाना,
पूरी मेरी क्या ये हसरत होंगी,
तेरी पूजा तेरी सेवा,
प्रभु तब तक होंगी,
मेरी सांसे।।



मेरी सांसे प्रभु जब तक होंगी,

तेरी पूजा तेरी सेवा,
प्रभु तब तक होंगी,
मेरी सांसे।।

Singer: Ginny Kaur


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें